मंगलवार, 9 नवंबर 2021

डिग्री के संग व्यक्तित्व और चरित्र निर्माण भी आवश्यकः वीसी

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी में ब्रेन मंथन क्विज कॉम्पटीशन का ग्रैंड फिनाले


प्रो. श्याम सुंदर भाटिया/श्री रजनीश तिवारी


 तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर टीचिंग, लर्निंग एंड डवलपमेंट-सीटीएलडी की ओर से आयोजित ब्रेन मंथन क्विज कॉम्पटीशन में बतौर मुख्य अतिथि टीएमयू के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह ने कहा, शिक्षा का मूलभूत उद्देश्य सिर्फ डिग्री अर्जित करना नहीं है बल्कि शिक्षा प्राप्ति के बाद स्वयं के व्यक्तित्व, व्यवहार और चरित्र का निर्माण करना भी आवश्यक है। विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कुलपति ने उन्हें अपने ज्ञान और बुद्धिमत्ता के विकास के लिए निरंतर प्रयत्नशील रहने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा, सफलता प्राप्ति के लिए जिंदगी में कभी भी हार नहीं माननी चाहिए। संवाद के दौरान उन्होंने कहा, विपरीत परिस्थितियों में किसी भी व्यक्ति के सामने तीन विकल्प होते हैं, परिस्थितियों से डरना, भागना या चुनौतियों का सामना करना। इन तीन विकल्पों में हमें तीसरे विकल्प का चुनाव करना चाहिए। टीम सीटीएलडी का जिक्र करते हुए बोले, पूरी टीम विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहती है। एक सप्ताह के भीतर दो मेगा इवेंट्स- वोकबाडिक्टस और ब्रेन मंथन क्विज कॉम्पटीशन का आयोजन इस टीम की लगन और प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है। 


इससे पूर्व क्विज कॉॅॅम्पटीशन का औपचारिक शुभारम्भ मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. सिंह, विशिष्ट अतिथि डीन अकादमिक प्रो. मंजुला जैन, डायरेक्टर स्टुडेंट्स वेलफेयर प्रो. एमपी सिंह और सीटीएलडी के डायरेक्टर प्रो. आरएन कृष्णिया ने संयुक्त रूप से मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण और वंदना के साथ किया। बतौर विशिष्ट अतिथि डीन अकादमिक प्रो. मंजुला जैन ने कहा, जिस प्रकार सागर मंथन के बाद विभिन्न रत्नों में सबसे महत्वपूर्ण रत्न अमृत की प्राप्ति हुई थी, उसी प्रकार हम सभी अपनी क्रिटिकल थिंकिंग, क्रिएटिविटी और लॉजिकल थिंकिंग के आधार पर अपनी जिंदगी में बेहतर निर्णय लेने की क्षमता का विकास करते हुए अपनी जिंदगी को और बेहतर बना सकते हैं। सीटीएलडी के डायरेक्टर प्रो. कृष्णिया ने प्रतियोगिता के बारे में जानकारी देते हुए कहा, प्रतियोगिता मुख्यतः क्रिटिकल थिंकिंग, क्रिएटिविटी और लॉजिकल रीजनिंग पर आधारित थी। ब्रेन मंथन क्विज कॉम्पटीशन में पूरे विश्वविद्यालय से कुल 750 विद्यार्थियों ने 250 की टीम में आवेदन किया था। प्रतियोगिता का प्रथम चरण साइन-इन स्क्रीनिंग राउंड में 250 टीम से 24 टीमों का चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया गया। प्रतियोगिता का दूसरे चरण सेंटर हाफ के आधार पर 24 टीमों में से 6 टीमों का का चयन प्रतियोगिता के अंतिम चरण द कन्क्लूजन में किया गया। 


अंतिम चरण द कन्क्लूजन में कुल 6 टीमों में से 3 टीमों ने प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त किया। यूनिवर्सिटी के मुख्य सभागार में आयोजित ब्रेन मंथन कॉम्पटीशन में प्रथम स्थान द चैंपियन टीम ने प्राप्त किया, जिसमें रितिका कत्याल, सुपन शंखधर और अंजलि त्यागी थे। टीम हाईपेरियंस ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया जिसमें हिमांशु जैन, पराग जैन और रोहित जैन थे। टीम टिमिट टाइटंस ने तृतीय स्थान प्राप्त किया जिसमें हिताक्षी भोला, ऋषिका अग्रवाल और शिवांश बंसल थे। विनिंग टीम के सभी प्रतिभागियों को मुख्य अतिथियों ने ट्रॉफी, मेडल्स और सर्टिफिकेट से नवाजा। इस पूरे कार्यक्रम की लाइव स्ट्रीमिंग विश्वविद्यालय के आईटी टीम ने यूट्यूब पर की, जिसको देश के विभिन्न राज्यों के छात्रों ने देखा। ब्रेन मंथन प्रतियोगिता में सीटीएलडी के अनुभवी ट्रेनर्स - श्री अभिनव श्रीवास्तव, श्री दिलीप दत्त वार्ष्णेय, श्री तरुण अरोरा, श्री विकास रंजन, श्री अविनाश यादव, सौम्या सूद, श्री रजनीश तिवारी, श्री अतुल दयाल, अलका दयाल, श्री विपिन चौहान, सुकन्या रघुवंशी, श्री मुनीश बंसल आदि की गरिमामयी मौजूदगी रही। मेगा इवेंट की क्विज मास्टर जैस्मिन स्टीफन रहीं तो संचालन स्टुडेंट्स अनन्य माथुर और श्रेया गुप्ता ने किया।


✌🏼✌🏼

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

इस्लाम जिमखाना मुंबई / विवेक शुक्ला

 एक शाम इस्लाम जिमखाना में  An evening in iconic Islam Gymkhana य़ह नहीं हो सकता कि मुंबई में आयें और छोटे भाई और बेख़ौफ़ पत्रकार Mohammed W...