शुक्रवार, 1 अक्तूबर 2021

यूपी हिंदी संस्थान 2020 पुरस्कार घोषित


उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के वर्ष 2020 के पुरस्कारों की घोषणा शुक्रवार शाम को की गई। 8 लाख रुपए का भारत भारती सम्मान अमृतसर के पांडेय शशिभूषण शीतांषु को दिया जाएगा। "मीडिया 360 लिट्रेरी फाउंडेशन" के उपाध्यक्ष सुभाष चंदर का चयन ढ़ाई लाख रुपए के श्रीनारायण साहित्य सम्मान हेतु हुआ है। गाजियाबाद के ही भगवान सिंह को पांच लाख रुपए के  हिन्दी गौरव सम्मान से विभूषित किया जाएगा।


 गाजियाबाद के ही आलोक पुराणिक को 75 हजार रुपए का व्यंग्य विधा का पुरस्कार उनकी कृति "व्हाट्सएप के पढ़े- लिखे" पर प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा नोएडा के सीतेश आलोक का चयन अवन्तिबाई साहित्य पुरस्कार के लिए किया गया है। उन्हें पुरस्कार स्वरूप 5 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। पिलखुवा के चंंद्र भूषण शर्मा व बी. एल. गौड़ का चयन साहित्य भूषण के लिए किया गया है। गाजियाबाद के ही गिरीश्वर मिश्र का चयन विद्या भूषण सम्मान के लिए किया गया है।


जिसके अंतर्गत पुरस्कार स्वरूप ढ़ाई-ढ़ाई लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। नोएडा की सुश्री मीनू त्रिपाठी, ओम प्रकाश यती, डॉ. राकेश पाण्डेय को पुरस्कार स्वरूप चालीस-चालीस हजार रुपए प्रदान किए जाएंगे। "अपेक्षाओं के बियाबान" कहानी संग्रह की लेखिका  गाजियाबाद निवासी डॉ. निधि अग्रवाल को बद्री प्रसाद शींगलू सम्मान प्रदान किया जाएगा।


"मीडिया 360 लिट्रेरी फाउंडेशन" एवं "कथा रंग' परिवार समस्त पुरस्कार विजेताओं का अभिनंदन करता है

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

फ़िल्मी पोस्टर / राजा बुंदेला

 वक्त बड़ा बेरहम होता है। कभी किसी को नहीं बख्शता यह नामुराद! जिस साम्राज्य में कभी सूरज नहीं डूबता था, इसने उसे भी डुबो दिया।  इस दौर में टॉ...