बुधवार, 9 जनवरी 2013

परियोजना प्रबंधक (प्रोजेक्ट मैनेजर)


मुक्त ज्ञानकोष विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
परियोजना प्रबंधन क्षेत्र के एक पेशेवर को परियोजना प्रबंधक कहते हैं. परियोजना प्रबंधकों के पास सामान्यतः निर्माण उद्योग, वास्तुकला, कंप्यूटर नेटवर्किंग, दूरसंचार या सॉफ्टवेयर विकास से संबंधित किसी परियोजना की योजना बनाने, निष्पादन करने, तथा उसको पूर्ण करने की जिम्मेदारी हो सकती है.
परियोजना प्रबंधक उत्पादन, डिजाइन और सेवा उद्योग के कई अन्य क्षेत्रों में भी मौजूद रहते हैं.

अनुक्रम

अवलोकन

परियोजना प्रबंधक वह व्यक्ति है जो परियोजना के घोषित उद्देश्यों को पूरा करने के लिए जिम्मेदार होता है. परियोजना प्रबंधन की महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों में शामिल हैं, परियोजना के स्पष्ट और प्राप्य उद्देश्यों को बनाना, परियोजना संबंधी आवश्यकताओं का निर्माण, और परियोजनाओं की तीनों बाधाओं - लागत , समय , तथा गुणवत्ता (स्कोप के नाम से भी जाना जाता है) - का प्रबंधन करना.
परियोजना प्रबंधक अक्सर ग्राहक के एक प्रतिनिधि के रूप में कार्य करता है और उसे ग्राहक की कंपनी के बारे में उपलब्ध जानकारी के आधार पर उसकी सम्पूर्ण आवश्यकताओं का निर्धारण तथा उन्हें लागू करना होता है. ग्राहक कंपनी की विभिन्न आंतरिक प्रक्रियाओं के अनुसार स्वयं को ढालने की क्षमता और उनके मनोनीत प्रतिनिधियों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाना, यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि लागत, समय, गुणवत्ता और इन सब से ऊपर, ग्राहक संतुष्टि जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को साकार किया जा सके.
'परियोजना प्रबंधक' शब्द और शीर्षक को सामान्य रूप में किसी ऐसे व्यक्ति का वर्णन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जिसे किसी परियोजना को पूरा करने की जिम्मेदारी दी गयी है. हालांकि इसे कहीं अधिक समुचित रूप से एक ऐसे व्यक्ति का वर्णन करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जिसे किसी परियोजना को पूरा करने के लिए आवश्यक पूरी जिम्मेदारी और उसी स्तर का अधिकार भी प्रदान किया गया है. अगर किसी व्यक्ति के पास उच्च स्तर की जिम्मेदारी और अधिकार दोनों नहीं हैं तो उसे एक परियोजना व्यवस्थापक, समन्वयक, फेसिलिटेटर या एक्सपेडिटर के रूप वर्णित किया जाना अधिक बेहतर रहेगा.

परियोजना प्रबंधक के विषय

परियोजना प्रबंधन
परियोजना प्रबंधन काफी हद तक अक्सर एक व्यक्तिगत परियोजना प्रबंधक का कार्यक्षेत्र और जिम्मेदारी होती है. यह व्यक्ति अंतिम परिणाम देने वाली गतिविधियों में शायद ही कभी सीधे तौर पर भाग लेता है, बल्कि इसकी बजाय प्रगति और पारस्परिक संपर्क एवं विभिन्न पार्टियों के कार्यों को इस तरह बनाये रखने का प्रयास करता है जो समग्र असफलता के जोखिम को कम कर देता है, फायदों को बढ़ा देता है और लागत पर नियंत्रण रखता है.
उत्पाद तथा सेवाएं
किसी भी प्रकार का उत्पाद या सेवा -- फार्मास्यूटिकल्स, भवन निर्माण, वाहन, इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, वित्तीय सेवाएं, आदि -- इसके कार्यान्वयन का निरीक्षण एक परियोजना प्रबंधक द्वारा और इसके संचालन का निरीक्षण एक उत्पाद प्रबंधक द्वारा किया जा सकता है.
परियोजना के उपकरण
परियोजनाओं के प्रबंधन के लिए आवश्यक उपकरण, जानकारी और तकनीकें अक्सर परियोजना प्रबंधन करने के मामले में विशिष्ट होती हैं. उदाहरण के लिए: कार्य विश्लेषण की संरचनाएं, महत्वपूर्ण पथ विश्लेषण और अर्जित मूल्य प्रबंधन. उन उपकरणों और तकनीकों को समझना और इस्तेमाल करना जिन्हें आम तौर पर अच्छी प्रथाओं के रूप में जाना जाता है, प्रभावी परियोजना प्रबंधन के लिए अकेले पर्याप्त नहीं हैं. प्रभावी परियोजना प्रबंधन के लिए यह आवश्यक है कि परियोजना प्रबंधक विशेषज्ञता के कम से कम चार क्षेत्रों की जानकारी और योग्यताओं को समझे और उनका इस्तेमाल करे. इसके उदाहरण हैं पीएमबीओके (PMBOK), अनुप्रयोग क्षेत्र की जानकारी: परियोजना प्रबंधन, सामान्य प्रबंधन योग्यताएं और परियोजना परिवेश प्रबंधन के लिए आईएसओ (ISO) द्वारा निर्धारित मानक और नियम[1]
परियोजना की टीमें
एक प्रभावी टीम की नियुक्ति और निर्माण के समय, प्रबंधक को ना केवल प्रत्येक व्यक्ति की तकनीकी योग्यताओं पर, बल्कि महत्त्वपूर्ण भूमिकाओं और कर्मचारियों के बीच आपसी संबंध पर भी विचार करना चाहिए. एक परियोजना टीम के मुख्य रूप से तीन अलग-अलग घटक हैं: परियोजना प्रबंधक, महत्त्वपूर्ण टीम और अनुबंधित टीम.
जोखिम
परियोजना प्रबंधन के ज्यादातर मुद्दे जो एक परियोजना को प्रभावित करते हैं जोखिम से उत्पन्न होते हैं, जो एक के बाद एक अनिश्चितता से पैदा होते हैं. एक सफल परियोजना प्रबंधक इस पर ध्यान केंद्रित करता है क्योंकि उसका/उसकी मुख्य चिंता और जोखिम को कम करने की कोशिश उल्लेखनीय ढंग से, अक्सर खुले संवाद की नीति पर चलते हुए, यह सुनिश्चित करना है कि परियोजना के प्रतिभागी अपने मतों और चिंताओं को आवाज दे सकें.

परियोजना प्रबंधकों के प्रकार

निर्माण परियोजना प्रबंधक

निर्माण परियोजना प्रबंधक पहले ऐसे व्यक्ति होते थे जो निर्माण या सहयोगी उद्योगों में काम करते थे और जिन्हें फोरमैन के स्तर तक प्रोन्नति दी जाती थी. ऐसा 20वीं सदी के अंत तक रहा जब तक कि निर्माण और निर्माण प्रबंधन अलग-अलग क्षेत्र नहीं बन गए.
अभी हाल तक, अमेरिकी निर्माण उद्योग में किसी भी स्तर के मानकीकरण की कमी थी जहां व्यक्तिगत तौर पर राज्य अपने अधिकार क्षेत्र के अंदर पात्रता की आवश्यकताओं को निर्धारित करते थे. हालांकि संयुक्त राज्य अमेरिका स्थित कई व्यापार संघों ने एक परियोजना प्रबंधक की योग्यता को निर्धारित करने के लिए एक सामान्य रूप स्वीकार्य योग्यताओं और परीक्षणों का सेट तैयार करने में प्रगति की है.
  • परियोजना प्रबंधन संस्थान ने अपने परियोजना प्रबंधन प्रोफेशनल (पीएमपी) पदनाम तैयार करने के साथ एक मानकीकरण निकाय होने के क्रम में कुछ महत्त्वपूर्ण प्रगति की है.
  • अमेरिकन इंस्टिट्यूट ऑफ कंस्ट्रक्टर्स का कंस्ट्रक्टर्स सर्टिफिकेशन कमीशन अर्धवार्षिक देशव्यापी परीक्षण आयोजित करता है. आठ अमेरिकी निर्माण प्रबंधन कार्यक्रमों की आवश्यकता है कि छात्र निर्माण प्रबंधन में बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री लेने से पहले इन परीक्षाओं में बैठें और 15 अन्य विश्वविद्यालय सक्रिय रूप से अपने छात्रों को इस परीक्षा पर विचार करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं.
  • एसोसिएटेड कॉलेजेज ऑफ कंस्ट्रक्शन एजुकेशन और एसोसिएटेड स्कूल्स ऑफ कंस्ट्रक्शन ने निर्माण संबंधी शैक्षणिक कार्यक्रमों के लिए राष्ट्रीय मानकों के विकास में काफी प्रगति की है.
इस पेशे ने हाल ही में कई दर्जन निर्माण प्रबंधन विज्ञान के स्नातक कार्यक्रमों को समायोजित किया है.
अमेरिकी नौसेना की निर्माण बटालियन, जिसका उपनाम सी-बीज़ है, यह प्रत्येक स्तर पर अपना कमांड कठिन प्रशिक्षण और प्रमाणपत्र के जरिये देता है. सी-बीज़ (SeaBees) में एक चीफ पैटी ऑफिसर बनना निर्माण प्रबंधन में एक बीएस के बराबर है, जिसके साथ कई वर्षों का अनुभव अपने खाते में जोड़ा जा सकता है. देखें एसीई (ACE) मान्यता.

वास्तु परियोजना प्रबंधक

वास्तु परियोजना प्रबंधक वास्तुकला क्षेत्र के परियोजना प्रबंधक हैं. उनके पास निर्माण उद्योग में अपने समकक्ष की तरह कई एक सामान योग्यताएं हैं. एक वास्तुकार अक्सर जनरल कॉन्ट्रेक्टर (जीसी) के कार्यालय में निर्माण परियोजना प्रबंधक के साथ मिलकर काम करेगा, और साथ ही साथ डिजाइन टीम और कई ऐसे सलाहकारों के काम में सहयोग करेगा जो एक निर्माण परियोजना में योगदान करते हैं, और क्लाइंट के साथ संवाद का प्रबंधन करेगा. बजट, कार्ययोजना और गुणवत्ता-नियंत्रण के मुद्दे एक वास्तुकार के कार्यालय में परियोजना प्रबंधक की जिम्मेदारियां हैं.

सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधक

एक सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधक अन्य उद्योगों में अपने समकक्षों की तरह कई एक जैसी योग्यताएं रखता है. निर्माण और उत्पादन जैसे उद्योगों में पारंपरिक परियोजना प्रबंधन से सामान्य रूप से जुडी योग्यताओं के अलावा, एक सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधक के पास विशेष तौर पर सॉफ्टवेयर विकास की एक व्यापक पृष्ठभूमि होगी. कई सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधकों के पास कंप्यूटर विज्ञान, सूचना प्रौद्योगिकी या किसी अन्य संबंधित क्षेत्र में एक डिग्री होती है और विशेष तौर पर उसने उद्योग में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में काम किया होगा.
पारंपरिक परियोजना प्रबंधन में एक दिग्गज, भविष्यसूचक पद्धति जैसे कि वाटरफॉल मॉडल का अक्सर प्रयोग किया जाता है लेकिन सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधकों के पास अनिवार्य रूप से कहीं अधिक हल्के, अनुकूलन योग्य तरीकों जैसे कि डीएसडीएम (DSDM), एससीआरयूएम (SCRUM), और एक्सपी (XP) की भी योग्यताएं होनी चाहियें. परियोजना प्रबंधन के ये तरीके एक नयी सॉफ्टवेयर प्रणाली विकसित करने की अनिश्चितता और अपेक्षाकृत छोटे, वृद्धिशील विकास चक्रों की वकालत करने पर आधारित हैं. ये वृद्धिशील या पुनरावृत्ति योग्य चक्र समयबद्ध (एक निश्चित अवधि के अंदर, विशेष तौर पर एक से चार सप्ताह में पूरा होने योग्य) होते हैं और प्रत्येक पुनरावृति के अंत में वितरण योग्य सम्पूर्ण प्रणाली का एक कार्यशील सबसेट तैयार करते हैं. हल्के दृष्टिकोण का बढ़ता अनुकूलन काफी हद तक इस तथ्य के कारण होता है कि सॉफ्टवेयर की आवश्यकताएं बदलाव के प्रति अति संवेदनशील होती हैं और एक एकल परियोजना के चरण में सॉफ्टवेयर का विकास शुरू होने से पहले सभी संभावित जरूरतों को उजागर करना बहुत मुश्किल होता है.
सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधक से सॉफ्टवेयर विकास के जीवन चक्र (एसडीएलसी) (SDLC) से परिचित होने की भी उम्मीद की जाती है. इसके लिए आवश्यकताओं की प्रार्थना, अनुप्रयोग का विकास, तार्किक और वास्तविक डेटाबेस डिजाइन और नेटवर्किंग की गहराई से जानकारी की आवश्यकता हो सकती है. यह जानकारी विशेष तौर पर उपरोक्त शिक्षा और अनुभव का परिणाम है. सॉफ्टवेयर परियोजना प्रबंधकों के लिए एक व्यापक रूप से स्वीकार्य प्रमाणपत्र नहीं है, लेकिन उनमे से कईयों के पास परियोजना प्रबंधन संस्थान, PRINCE2 द्वारा प्रदत्त पीएमपी (PMP) पदनाम या परियोजना प्रबंधन में एक उच्च स्तरीय डिग्री जैसे कि एक एमएसपीएम (MSPM) या प्रौद्योगिकी प्रबंधन में अन्य स्नातक की डिग्री होगी.

जिम्मेदारियां

परियोजना प्रबंधक की विशिष्ट जिम्मेदारियां उद्योग, कंपनी के आकार, कंपनी की परिपक्वता और कंपनी के परिवेश के आधार पर बदलती रहती हैं. हालांकि कुछ ऐसी जिम्मेदारियां भी हैं जो सभी परियोजना प्रबंधकों के लिए एक जैसी हैं, उदाहरण के लिए[2]:
  • परियोजना योजना को विकसित करना
  • परियोजना हितधारकों का प्रबंधन
  • परियोजना टीम का प्रबंधन
  • परियोजना जोखिम का प्रबंधन
  • परियोजना अनुसूची का प्रबंधन
  • परियोजना बजट का प्रबंधन
  • परियोजना विवादों का प्रबंधन

शिक्षा, प्रमाणपत्र और नेटवर्क

व्यावसायिक प्रमाणपत्र प्राप्त करने के इच्छुक व्यक्ति, विभिन्न संगठनों द्वारा प्रदान की जाने वाली एक या अधिक डिग्रियां ले सकते हैं:
परियोजना प्रबंधन संस्थान परियोजना प्रबंधकों को निम्न प्रमाणपत्र प्रदान करता है:[3]
  • प्रोजेक्ट मैनेजमेंट प्रोफेशनल (पीएमपी)
  • सर्टिफाइड एसोसिएट इन प्रोजेक्ट मैनेजमेंट (सीएपीएम)
  • प्रोग्राम मैनेजमेंट प्रोफेशनल (पीजीएमपी)
  • पीएमआई रिस्क मैनेजमेंट प्रोफेशनल (पीएमआई-आरएमपी), और
  • पीएमआई शेड्यूलिंग प्रोफेशनल (पीएमआई-एसपी)
अन्य संस्थान और संगठन:
  • प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कोंसिन्स मास्टर्स सर्टिफिकेट [1]
  • कॉम्प टीआईए प्रोजेक्ट+ सर्टिफिकेशन (प्रमाणपत्र) प्रदान करता है
  • कैनेडियन कंस्ट्रक्शन एसोसिएशन (सीसीए) प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में जीएससी प्रदान करता है.
  • यूके ऑफिस ऑफ गवर्नमेंट कॉमर्स प्रिंस2 सर्टिफिकेशन प्रदान करता है.
  • ऑस्ट्रेलियन इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोजेक्ट मैनेजमेंट (एआईपीएम) रजिस्टर्ड प्रोजेक्ट मैनेजर (रेजपीएम) सर्टिफिकेशन प्रदान करता है.
  • डिफेन्स एक्विजिशन यूनिवर्सिटी तथा उसका स्कूल ऑफ प्रोग्राम मैनेजमेंट संघीय सरकार, रक्षा उद्योग तथा मित्र राष्ट्रों के सदस्यों को परियोजना प्रबंधन से संबंधित प्रत्येक तत्व का व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करता है.
परियोजना और प्रौद्योगिकी प्रबंधन में अन्य स्नातक डिग्रियां भी हैं जैसे कि एक एमएसपीएम (MSPM). हालांकि सभी परियोजना प्रबंधन योग्यताओं में ज्यादातर कोपीएच.डी., डी.फिल. या अन्य समकक्ष उच्चस्तरीय डॉक्टरेट की डिग्री को पूरा कर के विकसित किया जा सकता है.
आईपीएमए (IPMA) ब्रिटेन में राष्ट्रीय परियोजना प्रबंधन समितियों जैसे कि परियोजना प्रबंधन के लिए एसोसिएशन का एक अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क है. आईपीएमए (IPMA) राष्ट्रीय सोसाइटियों का प्रतिनिधित्व करते हुए एक छाता संगठन के रूप में कार्य करता है जो अपने प्रमाणपत्र प्रदान करते हैं.

परियोजना प्रबंधन प्रशिक्षण

परियोजना प्रबंधन प्रशिक्षण के तरीके बहुत ही विविधतापूर्ण हैं. अधिकांश परियोजना प्रबंधकों द्वारा प्राप्त ज्यादातर प्रशिक्षण नौकरी के दौरान लिया गया प्रशिक्षण है. प्रशिक्षण के अन्य स्रोतों में शामिल हैं:
  • परियोजना प्रबंधन में यूनिवर्सिटी डिग्री कार्यक्रम
  • परियोजना प्रबंधन पर जोर देने के कुछ स्तर के साथ बिजनेस डिग्री कार्यक्रम
  • प्रमाणीकरण हेतु कक्षाएं तथा प्रशिक्षण
  • ब्लॉग और पॉडकास्ट जैसे सामाजिक मीडिया
  • पुस्तकें
  • सेमिनार और सम्मेलन
  • स्थानीय समूह बैठक (आई.ई. स्थानीय अध्याय)

इन्हें भी देखें

  • कार्यक्रम योजना और निर्माण
  • परियोजना प्रबंधन में मास्टर ऑफ साइंस
  • परियोजना इंजीनियर
  • परियोजना प्रबंधन
  • परियोजना की योजना

संदर्भ

  1. पीएमबीओके (PMBOK) गाइड तीसरा संस्करण 2004 पृष्ठ. 12
  2. बेरी, मिशेल, परियोजना प्रबंधक दायित्व, पीएम (PM) हट. 17 अक्टूबर 2009 को अभिगम.
  3. प्रत्यायक के परियोजना प्रबंधन संस्थान परिवार

आगे पढ़ें

बाहरी लिंक्स

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें