रविवार, 21 मार्च 2021

पथरी का इलाज

 *पथरी के मरीज है तो यूं करें तुलसी का सेवन, जल्द मिलेगी राहत*

*********************************

शरीर में पोषक तत्व व पानी की कमी के कारण किडनी स्टोन की परेशानी हो सकती है। इसके कारण शरीर में असहनीय दर्द का भी सामना करना पड़ता है। मगर आयुर्वेद व पोषक तत्वों से भरपूर तुलसी का सेवन करके इस परेशानी से बचा जा सकता है। जी हां, गुणों से भरपूर किडनी स्टोन से छुटकारा दिलाने में बेहद माहिर होती है। तो चलिए आज हम किडनी स्टोन होने के कारण व इससे छुटकारा पाने के उपाय बताते हैं। 

*किडनी स्टोन होने का कारण*


- सही मात्रा में पानी ना पीना

- बार-बार यूरिन आना

- यूरिन समय जलन व खून आना

- ज्यादा मसालेदार व ऑयली चीजें खाना

- शरीर में कैल्शियम और कोलेस्ट्राल की मात्रा बढ़ जाना

- बार-बार बीमार होना व दवाई का जल्दी असर ना होना

- बैचेनी, मचली, उल्टी आना

*तुलसी में मौजूद पोषक तत्व*

तुलसी के पत्तों में विटामिन सी, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, कैरीटीन, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल आदि गुण होते हैं। ऐसे में इसके सेवन से किडनी स्टोन की समस्या दूर होने में मदद मिलती है। साथ ही किडनी स्वस्थ रहती है। तो चलिए जानते हैं किडनी स्टोन की परेशानी में तुलसी सेवन करने का तरीका...


1. तुलसी के 8-10 पत्तों को अच्छे से धो लें। फिर पैन में पानी व तुलसी पत्ते डालकर उबालें। पानी का रंग बदलने पर इसमें स्वाद अनुसार शहद मिलाकर हल्का गर्म पीएं। लगातार 6 महीने तक इसका सेवन करने से पथरी शरीर में गल जाएगी। इस तरह वह यूरिन के जरिए शरीर से बाहर आ जाएगी। 


2. इसके अलावा तुलसी की 1-2 ग्राम पत्तियां लेकर धो लें। अब इसे पीस कर इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर सेवन करें। इससे बिना किसी परेशानी व दर्द के किडनी स्टोर यूरिन के माध्यम से बाहर आने में मदद मिलेगी। 


*तुलसी के अन्य फायदे*


- एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल गुणों से भरपूर तुलसी की चाय या काढ़ा पीने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है। ऐसे में सर्दी-खांसी, जुकाम आदि मौसमी बीमारियों से बचाव रहता है। 


- इसका सेवन करने से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की परेशानी से राहत रहती है। 


- मुंह से बदबू आने की समस्या दूर होती है। 


- अनियमित पीरियड की समस्या से राहत मिलती है। 


- एंटी-एजिंग गुणों से भरपूर तुलसी स्किन संबंधी परेशानियों से भी छुटकारा दिलाती है। इसके लिए तुलसी की पत्तियों को पीस कर गुलाब जल में मिलाकर इसका पेस्ट बनाएं। तैयार पेस्ट को चेहरे व गर्दन पर 10-15 मिनट तक लगाएं। बाद में ताजे पानी से धो लें। इससे दाग-धब्बे, झाइयों, झुर्रियों, काले घेरे आदि से छुटकारा मिलेगा। 


+*******************************

*हेमन्त किगंर *

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें