बुधवार, 30 दिसंबर 2020

शंकर स्मृति समारोह एवं व्याख्यानमाला

   शंकर स्मृति समारोह एवं व्याख्यानमाला का आयोजन


 इस बार वेबिनार के तौर पर हुआ, जिसमें दिल्ली के उपमुख्यमंत्री श्री मनीश सिसोदिया, अशोका यूनिवर्सिटी के संस्थापक डा0 प्रमथ राज सिन्हा, राजगीर बोध विहार सोसाइटी की सचिव डा0 महाश्वेता महारथी तथा इंस्टीट्यूट ऑफ एडवान्स्ड साइंसेज के प्रोफेसर बलराम सिंह ने शिक्षा, संस्कृति एवं संस्कार के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। यहां प्रस्तुत है समारोह का प्रारंभ, जिसमें स्वागत, संगलाचरण, इस बीच दिवंगत हिन्दी विभूतियों के प्रति श्रद्धा सुमन और स्व0 शंकर दयाल सिंह के बाल्यकाल की घटना पर आधारित फिल्म सम्मिलित है। आगे की दो कड़ियों में मुख्य उद्बोधन तथा व्याख्यान दिए जाएंगे। यह रिकार्डिंग खास तौर से उन सबों के लिए जो किसी कारण से जीवन्त समारोह में नहीं शामिल हो सके थे।

 https://youtu.be/dQY8फिजस



शंकर स्मृति समारोह एवं व्याख्यानमाला का आयोजन इस बार वेबिनार के तौर पर हुआ, जिसमें दिल्ली के उपमुख्यमंत्री श्री मनीश सिसोदिया, अशोका यूनिवर्सिटी के संस्थापक डा0 प्रमथ राज सिन्हा, राजगीर बोध विहार सोसाइटी की सचिव डा0 महाश्वेता महारथी तथा इंस्टीट्यूट ऑफ एडवान्स्ड साइंसेज, डरमॉथ, अमेरिका के प्रोफेसर बलराम सिंह ने शिक्षा, संस्कृति एवं संस्कार के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। यहां प्रस्तुत है समारोह का दूसरा भाग, जिसमें शिक्षा, संस्कृति एवं संस्कार पर समारोह में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया का उद्बोधन सम्मिलित है। समारोह में खास तौर पर रंजीत सिंह दिसाले को याद किया गया, जिन्हेोंने 7 करोड़ रुपये के ग्लोबल टीचर्स अवार्ड  प्राप्त कर भारत को गौरव दिलाया और फिर उसमें से आधी राशि अपने साथी प्रतियोगियों में बांट कर त्याग की भारतीय संस्कृति से दुनिया का परिचय कराया। अगली और अंतिम कड़ी में व्याख्यान दिए जाएंगे। यह रिकार्डिंग खास तौर से उन सबों के लिए जो किसी कारण से जीवन्त समारोह में नहीं शामिल हो सके 


शंकर स्मृति समारोह एवं व्याख्यानमाला का आयोजन इस बार वेबिनार के तौर पर हुआ, जिसमें दिल्ली के उपमुख्यमंत्री श्री मनीश सिसोदिया, अशोका यूनिवर्सिटी के संस्थापक डा0 प्रमथ राज सिन्हा, राजगीर बोध विहार सोसाइटी की सचिव डा0 महाश्वेता महारथी तथा इंस्टीट्यूट ऑफ एडवान्स्ड साइंसेज, डरमॉथ, अमेरिका के प्रोफेसर बलराम सिंह ने शिक्षा, संस्कृति एवं संस्कार के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की। यहां प्रस्तुत है समारोह का तीसरा भाग, जिसमें डा0 प्रमथ सिन्हा, डा0 महाश्वेता महारथी तथा डा0 बलराम सिंह के विचार सम्मिलित हैं, जो विषय को सार्थकता प्रदान करते हैं।

https://youtu.be/WI4-cep_T-c


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें