रविवार, 29 नवंबर 2020

आत्म कथ्य - भारत यायावर

 आत्मकथ्य

* * *

बहुत सारे लोग मुझसे पूछते हैं

किस तरह मैं यायावर हुआ ?

यायावर हुआ तो उसकी जाति और गोत्र क्या है ?

वह किस सम्प्रदाय का है ?

तो मित्रो ! आज मैं स्पष्टीकरण दे रहा हूँ..👇👇

http://kavitakosh.org/kk/%E0%A4%95%E0%A4%BF%E0%A4%B8_%E0%A4%A4%E0%A4%B0%E0%A4%B9_%E0%A4%AF%E0%A4%B9_%E0%A4%B6%E0%A4%96%E0%A4%BC%E0%A5%8D%E0%A4%B8_%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%B5%E0%A4%B0_%E0%A4%B9%E0%A5%81%E0%A4%86_/_%E0%A4%AD%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%A4_%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%B5%E0%A4%B0

~ Bharat Yayawar


हिंदी के महान साहित्यकार तथा युवा पीढ़ी के लेखकों के मार्ग दर्शक भारत यायावर जी को #जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं🎂💐

#काव्य_कृति✍️

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें