बुधवार, 13 मई 2020

गृह मंत्री को पत्र


प्रेस विज्ञप्ति

गुजराती अखबार के संपादक को रिहा करो-एनयूजेआई-डीजेए
गृह मंत्री अमित शाह को पत्र भेजा

नई दिल्ली। नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स-इंडिया और दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ने गुजराती अखबार फेस ऑफ नेशन के संपादक और मालिक धवल पटेल की आईपीसी सेक्शन 124 ए (राजद्रोह) और डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट सेक्शन 54 (गलत चेतावनी के लिए सजा) के तहत गिरफ्तारी की निंदा करते हुए तुरंत रिहाई की मांग की है।
एनयूजेआई के अध्यक्ष रास बिहारी और महासचिव प्रसन्ना मोहंती, दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश थपलियाल और महासचिव केपी मलिक ने एक प्रेस बयान में कहा है कि गुजरात के मुख्यमंत्री के बारे में समाचार छापने पर पत्रकार की गिरफ्तारी का विरोध करते हैं। गुजराती अखबार फेस ऑफ नेशन और पोर्टल के संपादक तथा मालिक धवल पटेल को गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रूपानी के बारे में एक खबर छापने पर आईपीसी सेक्शन 124 ए (राजद्रोह) और डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट सेक्शन 54 (गलत चेतावनी के लिए सजा) के तहत गिरफ्तार किया गया है। धवल पटेल ने 7 मई को अपने अखबार में प्रकाशित किया था कि कोरोना महामारी पर सही तरीके काबू न कर पाने पर भाजपा आलाकमान मुख्यमंत्री विजय रूपानी को हटाकर केंद्रीय मंत्री मनसुख भाई मंडाविया को मुख्यमंत्री बना सकती है।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह को संगठन की तरफ से भेजे गए पत्र में कहा गया है कि हो सकता है कि यह खबर पूरी तरह से तथ्यों पर आधारित न हो, पर कोई यह तो विचार रख सकता है कि मुख्यमंत्री महामारी का प्रकोप रोकने में असफल रहे और मंडाविया बेहतर काम कर सकते थे। राजद्रोह और आपदा प्रबंधन कानून के तहत धवल पटेल की गिरफ्तारी उचित नहीं है। पत्रकार की इस तरह से गिरफ्तारी को लेकर मीडिया बिरादरी में नाराजगी है। गुजरात के पत्रकार भी गिरफ्तारी का विरोध कर रहे हैं। एनयूजेआई और डीजेए ने धवल पटेल को तुरंत रिहा करन की मांग की है। साथ उनपर लगे सभी आरोप रफादफा करने की भी मांग की है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें