सोमवार, 12 अप्रैल 2021

कहाँ पर जाकर थमेगा यह कोरोना?

 कोरोना क्या करके मानेगा? एक दिन में 1.70 लाख के करीब केस, और रोजाना एक हजार मौतों को छूता आंकड़ा, अब तो इस राज्य ने कह दिया- यहां ऐसे ही मत आ जाना. 

India Coronavirus latest अपडेट

: देश में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या जिस रफ्तार से बढ़ रही है उसे देखकर आगे हालात और खराब होते नजर आ रहे हैं| कोरोना वायरस की यह लहर देश पर कहर बनकर टूटने पर उतारू हो रखी है| देश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के 1 लाख 70 हजार के करीब नए मामले सामने आए हैं जो अभी तक एक दिन में सबसे ज्यादा हैं। वहीं, इस दौरान 904 लोगों ने अपनी जान भी गंवाई है। इधर, लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों(India Coronavirus latest update) से एक्टिव केसों की संख्या भी बढ़ गई है। इस वक्त देश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 12 लाख को पार कर गई है। वहीँ, देश में अबतक 1 लाख 70 हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। बतादें कि, महाराष्ट्र में कोरोना ने अभी तक के सारे रेकॉर्ड ध्वस्त कर दिए हैं। कोरोना के सबसे ज्यादा मामले इन जगहों पर दर्ज किये जा रहे हैं जिनमें मुख्यता महाराष्ट्र है और इसके बाद पंजाब, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश और केरल शामिल है।

हिमाचल सरकार ने बड़ा कदम उठाया……

कोरोना के बढ़ते प्रसार को देखते हुए हिमाचल सरकार ने बड़ा कदम उठाया है| हिमाचल सरकार ने राज्य में 7 जगहों से आने वाले लोगों के लिए राज्य में एंट्री करने पर उन्हें अब ऐसा करने के लिए कहा है| इसलिए यदि आप इन 7 जगहों से हैं और हिमाचल प्रदेश की वादियों में घूमने का प्लान बना रहे हैं तो उससे पहले सरकार की ओर से जारी गाइडलाइंस जरूर पढ़ लें या फिर आप हिमाचल के ही हैं और इन 7 जगहों में से कहीं पर भी हैं और अपने राज्य जाना चाह रहे हैं तो भी आपके लिए गाइडलाइंस पढ़ना जरूरी है|

बतादें कि, हिमाचल सरकार ने अब देश की 7 जगहों से राज्य में दाखिल होने वाले लोगों के लिए कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट अपने साथ लाना अनिवार्य कर दिया है| हिमाचल प्रदेश सरकार ने उन सात राज्यों से यहां आने वाले लोगों के लिए कोविड-19 की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य कर दिया है, जहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी देखी गई है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के लोगों के लिये 16 अप्रैल से हिमाचल प्रदेश आने पर आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया गया है। यह रिपोर्ट 72 घंटे से पहले की नहीं होनी चाहिए।

आपको बतादें कि हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर ने बीते रविवार को राज्य में कोविड-19 हालात का जायजा लेने के लिए एक बड़ी बैठक की, इसी दौरान यह घोषणा की गई| सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल में एंट्री करनी है तो अब कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट को दिखाना होगा| 16 अप्रैल से सात अधिकतम कोरोना मामलों वाले राज्यों से आने वाले लोगों को प्रवेश के लिए 72 घंटों के भीतर कराए गए आरटी-पीसीआर नकारात्मक रिपोर्ट लाना अनिवार्य है|

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य में माइक्रो कंटेनमेंट जोन की प्रभावी निगरानी के साथ टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट की रणनीति पर जोर दिया जाए| मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बसों और सार्वजनिक परिवहन वाहनों में अधिक भीड़ नहीं होने दी जाए| इसके साथ ही मैरिज हॉल (इंडोर) में होने वाले शादी समारोहों में 50 से अधिक और खुली जगह पर होने वाले समारोह में 200 से अधिक लोगों के आने पर पाबंदी लगा दी है। अंतिम संस्कार में भी केवल 50 लोग ही शामिल हो सकेंगे।

हालांकि सीएम जयराम ठाकुर ने लॉकडाउन जैसे किसी फैसले से इनकार किया है, लेकिन यह जरूर कहा कि आने वाले दिनों में पाबंदियों में और इजाफा किया जा सकता है। बता दें कि पड़ोसी राज्य पंजाब के कोरोना से बुरी तरह प्रभावित होने के चलते भी राज्य में चिंताएं बढ़ी हैं। इधर, फिलहाल राज्य में आने पर कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट लाने वाला फैसला यहां की टूरिज्म इंडस्ट्री की चिंताएं बढ़ा सकता है|

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें