सोमवार, 12 अप्रैल 2021

कोरोना मे जनबल का दायित्व?

 *क्या हमारी भी कोई जिम्मेदारी बनती है ?*

(अनिल सक्सेना / ललकार)



*महाराष्ट्र के बाद छत्तीसगढ़* में कोरोना अपना तांडव रूप दिखा रहा है । अकेले रायपुर में 46 नये श्मशान घाट बनाए गए । छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री शिवकुमार डहरिया ने मीडिया को बताया कि मौत के बाद शव जलाने के लिए लोगों को लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। राजस्थान में भी कोविड संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ रही है। प्रदेश में रविवार को एक दिन में 5105 कोरोना रोगी मिले है।


*कोविड पर नियंत्रण हो,* इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लगभग हर दिन बैठकें ले रहें है, प्रतिदिन निर्णय ले रहें है। प्रदेश का प्रत्येक जिला प्रशासन चौकन्ना होकर कार्य कर रहा है। सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या हम कोरोना के प्रति सजग होकर कार्य कर रहें है ? जिस तरह से राज्य सरकार और जिला प्रशासन की जिम्मेदारी है कि क्षेत्र में कोरोना नही फैले , क्या हमारी भी कोई जिम्मेदारी बनती है ?


*हम चुनावी सभाओं* पर प्रश्नवाचक चिन्ह लगा रहे है कि नेता भीड़ क्यों एकत्रित कर रहें है ? सवाल यह भी है कि क्या हम और आप लोग इस भीड़ का हिस्सा नही है ? भीड़ तो हम ही है। फिर नेताओं को या राजनीतिक दलों पर दोषारोपण क्यों ? हम सभी तय कर लें कि अभी हम भीड़ का हिस्सा नही बनेंगे तो भीड़ एकत्रित होगी कैसे ? हमें कोरोना से बचाए रखने की जिम्मेदारी सरकार या जिला प्रशासन की ही नही अपितु हमारी स्वयं की भी है। क्या हम सरकार के द्वारा जारी कोविड गाइडलाइन की पालना पूरी तरह कर रहें है ?


*मास्क हमारे पास है* लेकिन नाक से नीचे या गले में पहना हुआ है । यहां तक कि जेब की शोभा भी यही मास्क बढ़ा रहा है और जैसे ही हम दूर से पुलिस को देखते है तुरंत ही मूंह पर मास्क लगा लेते है । ऐसा करके आप धोखा पुलिस को नही बल्कि अपने आप को दे रहे हो और कोरोना को आमंत्रित करने जैसा कार्य कर रहे हो ।


*जिंदा रहे या नही रहे लेकिन हमें* घूमने जाना जरूरी है वो भी बिना मास्क लगाए और साथ में पत्नी और बच्चों को भी ले जाना नही भूलते । वैक्सीन नही लगवाएंगे क्यों कि हम अफवाहों पर विश्वास करते है , झूठ पर विश्वास करते है , अनपढ़ों पर विश्वास करतें है । इस वायरस की मार के बारें में उनसे पूछिए जनाब, जिनके घर में कोरोना से मौत हुई हो, उनके दर्द को महसूस कीजिए ।


*राजस्थान* में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को देखकर अब तो सुधर जाइए। जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक या दूसरा कोई अधिकारी अपनी जान खतरे में डाल कर आपको समझाने और आपको बचाने के लिए ही माॅनिटरिंग कर रहें है। 


*केन्द्र में भाजपा सरकार है और राजस्थान में कांग्रेस सरकार ।* भाजपा नेता हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस नेता राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत दोनो ही वैक्सीन लगवाने का आग्रह कर रहें है और कोविड गाइडलाइन की पालना करने पर जोर दे रहें है। अफवाहों पर ध्यान नही दीजिए, अपनी जान बचाइए और कोरोना वैक्सीन लगवा कर दूसरों को भी प्रोत्साहित कीजिए कि वे कोविड गाइडलाइन की पालना कर समाज को सुरक्षित बनाए।

----------

क्या हमारी भी कोई जिम्मेदारी बनती है ? , click the link *Since 1949 ललकार समाचार पत्र* - http://www.lalkarnews.com/newsi.php?idm=246

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें