शुक्रवार, 24 जुलाई 2020

लक्ष्य


*क्या आपके पास स्पष्ट लक्ष्य है ?*🏹
〰〰〰〰〰〰〰〰〰

"मार्क मैक्कारमेक" की बेस्ट सेलिंग बुक "What they don't teach you at Howard business school" पढ़ते हुए हमें 1979 से 1989 के दौरान हुए एक अध्ययन का पता चला।
1979 में हावर्ड बिजनेस स्कूल के ग्रेजुएट्स से एक सवाल पूछा गया कि...
*"क्या आपने अपने भविष्य के लिए स्पष्ट और लिखित लक्ष्य तय किये हैं और उन्हे हासिल करने की कोई योजना बनाई है ?"*
उनके द्वारा दिये गए जवाब के अनुसार निष्कर्ष निम्न थे....
*"मात्र 3% के पास लिखित लक्ष्य और योजनाएं थीं"*
*"13% के पास लक्ष्य तो थे लेकिन उन्होने लिखा नहीं था"*
*"84% के पास स्पष्ट लक्ष्य ही नहीं थे सिवाय इसके कि वे स्कूल पूरा होने के बाद मिलने वाली छुट्टियों का आनंद लें।"*
शोधकर्ताओं ने ठीक 10 साल बाद 1989 में उन्ही ग्रेजुएट्स से दोबारा मुलाकात की और उनकी आर्थिक स्थिति का जायजा लिया। मिलने वाले निष्कर्ष का आप भी जायजा लीजिए.....
*"जिन 13% के पास अलिखित लक्ष्य थे वो बिना लक्ष्य वाले 84% ग्रेजुएट्स से 👉औसतन दुगुना 👈कमा रहे थे।"*
*"लेकिन आश्चर्यजनक बात तो यह थी कि.....*
*हावर्ड छोड़ते समय जिन 3% ग्रेजुएट्स के लिखित रूप से स्पष्ट लक्ष्य थे वे बाकी 97% ग्रेजुएट्स से*
*👉औसतन 10 गुना 👈कमा रहे थे।"*

तो हम चाहे जिस नौकरी में हों, बिजनेस में हों....
*अगर हमारे पास स्पष्ट रूप से लिखित लक्ष्य नहीं है तो हमारी विकास दर सदैव औसत से बहुत कम होगी।*

तो अगर आप लक्ष्यविहीन हैं तो....
*आज ही स्पष्ट कीजिए अपने लक्ष्य और अपने लक्ष्य की अपने आत्मविश्वास भरे कदम बढ़ाईये।*
👍
*हमारी प्रबल शुभकामनाएं आपके साथ हैं*
🙏🌹🙏

📈
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
*Make it your part of life*
〰〰〰〰〰〰〰〰👍

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कितनी बदल गयी दिल्ली / विवेक शुक्ला

 दिल्ली 1947- 2021 कितनी बदली   साउथ दिल्ली के सफदरजंग एन्क्लेव के करीब हुमायूंपुर में मिजो फूड तथा मयूर विहार में मलयाली रेस्तरांओं के साइन...