शुक्रवार, 25 जुलाई 2014

भारतीय टीवी दूरदर्शन का राष्‍ट्रीय चैनल


 

 

 

प्रस्तुति-- निम्मी नर्गिस

 

  मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से

 यह भारतीय टीवी दूरदर्शन का राष्‍ट्रीय चैनल है। इसमें (5): डीडी 1, डीडी न्‍यूज़, डीडी भारती, डीडी स्‍पोर्ट्स और डीडी उर्दू ये पाँच चैनल आते हैं। डीडी-नेशनल पर ऐसे राष्ट्रीय कार्यक्रम प्रसारित किए जाते हैं जिनका मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देना तथा मन में एकता एवं भाई-चारे की भावना बैठाना है । यह चैनल दर्शकों की दृष्टि से देश का नम्बर एक चैनल है । डीडी-नेशनल पर मनोरंजन, सूचना एवं शिक्षा संबंधी कार्यक्रमों का स्वस्थ मिश्रण होता है । इस चैनल पर प्रात: 5.30 बजे से मध्य रात्रि तक स्थलीय मोड में सेवा उपलब्ध कराई जाती है । उपग्रह मोड में डीडी-नेशनल चौबीस घंटे उपलब्ध रहता है । लोक सेवा के इस मिश्रित चैनल के प्रसारण का समय इस ढंग से तैयार किया गया है कि यह विभिन्न समयों पर विभिन्न श्रेणी के दर्शकों की आवश्यकताओं को पूरा करता है ।
सभी महत्वपूर्ण राष्ट्रीय आयोजनों जैसे गणतंत्र दिवस परेड, स्वतंत्रता दिवस समारोहों राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के राष्ट्र के नाम संबोधनों, संसद के संयुक्त सत्र में राष्ट्रपति के अभिभाषण, संसद में होने वाली महत्वपूर्ण बहसों, रेलवे और आम बजट प्रस्तुत करने, लोकसभा और राज्यसभा के प्रश्न काल, चुनाव परिणाम और उनका विश्लेषण, शपथ ग्रहण समारोहों, राष्ट्रपति एवं प्रधान मंत्री की विदेश यात्राओं और विदेश से भारत आने वाले विशिष्ट व्यक्तियों की यात्राओं का डीडी-नेशनल पर सीधा प्रसारण किया जाता है । महत्वपूर्ण खेल-कूद आयोजनों जैसे ओलंपिक, एशियाई खेल, क्रिकेट टेस्ट मैचों और अन्तर्राष्ट्रीय एक दिवसीय मैचों, जिनमें भारत एवं अन्य महत्वपूर्ण खेल प्रतिद्वंदी भाग ले रहे हों, का भी सीधा प्रसारण किया जाता है ।
शिक्षा संबंधी कार्यक्रम इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू), विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी), केंद्रीय शिक्षा प्रौद्योगिकी संस्थान (सीआईईटी) और राज्य शिक्षा प्रौद्योगिकी संस्थान (एसआईईटी) जैसे विभिन्न स्रोतों से प्राप्त किए जाते हैं । इसके अलावा, टर्निंग प्वाइंट, प्रौढ़ शिक्षा कार्यक्रम, टेरा क्विज और भूमि (पर्यावरण से संबंधित कार्यक्रम) जैसे प्रायोजित कार्यक्रम, महिलाओं, जनजातीय मामलों से जुड़े विषयों पर कार्यक्रम और लोक सेवा संबंधी अन्य कार्यक्रम भी नियमित आधार पर प्रसारित किए जाते हैं ।
डीडी-नेशनल के सूचना कार्यक्रमों में समाचार एवं सामयिकी से संबंधित कार्यक्रम शामिल होते हैं जिनका अधिकांशत: निर्माण इन हाउस किया जाता है । सायं 8.00 बजे से 8.30 बजे तक के समाचार/न्यूज बुलेटिन एकल चैनल वाले घरों और बहु चैनल केबल एवं उपग्रह वाले घरों दोनों में देश के सर्वाधिक देखे जाने वाले समाचार बुलेटिन हैं । डीडी-नेशनल और डीडी-न्यूज चैनलों पर संसद के प्रश्न काल का सीधा प्रसारण किया जाता है ।
क्षेत्रीय भाषाओं एवं बोलियों में लोक उपयोगिता, मनोरंजन कार्यक्रमों के लिए सप्ताह के सभी दिन अपराह्न 3.00 बजे से सायं 8.00 बजे के बीच क्षेत्रीय भाषाओं के कार्यक्रमों के लिए एक विशिष्ट समय आरक्षित किया गया है ।
मनोरंजन के कार्यक्रमों में दोपहर 12.00 बजे से अपराह्न 3.00 बजे के बीच प्रसारित किए जाने वाले दैनिक धारावाहिक तथा रात्रि 8.30 बजे से मध्य रात्रि तक प्रसारित किए जाने वाले धारावाहिक कार्यक्रम शामिल हैं । इसमें शुक्रवार, शनिवार और रविवार को फीचर-फिल्मों और माह के अंतिम रविवार को पुरस्कृत क्षेत्रीय फिल्मों का प्रसारण भी शामिल है ।
फिल्मों के प्रसारण अधिकार फिल्म की उत्कृष्टता मूल्य से जुड़े दर ढांचे के आधार पर अधिकार-धारक को रॉयल्टी का भुगतान करके प्राप्त किए जाते हैं । फिल्मों का चयन बॉक्स आफिस पर उनकी सफलता, बाजार में उनकी विपणन क्षमता और दूरदर्शन के दर्शकों की पसंद के आधार पर किया जाता है । फिल्मों का विपणन स्वयं दूरदर्शन द्वारा किया जा रहा है । इससे पहले की पद्धति के अनुसार प्रायोजित आधार पर दिखाई जाने वाली फिल्मों के जरिए अर्जित राजस्व की तुलना में दूरदर्शन के लिए यह प्रणाली लाभप्रद सिद्ध हुई है ।
वर्ष 2004 के दौरान डीडी-नेशनल पर एक नए स्वरूप में एक फिल्म स्लॉट ङबायस्कोपच् की शुरुआत की गई थी । इस स्लॉट में एक हिंदी फीचर-फिल्म का सोमवार, मंगलवार और बुद्धवार को रात्रि 11.00 बजे धारावाहिक के रूप में प्रसारण किया जाता है । बायस्कोप में अब तक विगत वर्षों की अनेक उत्कृष्ट फिल्में दिखाई जा चुकी हैं ।
उच्च गुणता वाले सिनेमा को प्रोत्साहित करने की अपनी प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए, माह के अंतिम रविवार को रात्रि 11.30 बजे राष्ट्रीय स्वर्ण कमल एवं रजत कमल पुरस्कार पाने वाली क्षेत्रीय फीचर-फिल्मों का प्रसारण किया जाता है ।
सार्वजनिक महत्व के विभिन्न मुद्दों के बारे में गुणता वाले वृत्तचित्र प्राप्त करने के लिए प्रसार भारती ने लोक सेवा प्रसारण ट्रस्ट (पीएसबीटी) के साथ एक भागीदारी पर हस्ताक्षर किए हैं । सुविख्यात एवं उदीयमान फिल्म निर्माताओं द्वारा निर्मित इन वृत्तचित्रों को प्रत्येक रविवार को रात्रि 9.30 बजे डीडी-नेशनल पर प्रसारित किया जाता है । लोक सेवा प्रसारण ट्रस्ट के साथ और तीन वर्ष के लिए करार का नवीकरण किया गया है । प्रसार भारती वार्षिक वृत्तचित्र समारोह- "ओपन फ्रेम" में सक्रिय रूप से भाग लेता है ।

डीडी 1
डीडी न्‍यूज पूरे दिन स्‍टाक और वस्‍तुओं के सूचकांक ऑटोमैटेड मोड से प्रसारित करता है जिसमें, एनएसई और बीएसई और एनसीडीईएक्‍स, एमसीएक्‍स आदि अग्रणी वस्‍तु बाजार की सूचनाएं होती हैं।
डीडी स्‍पोर्ट्स: यह देश का एकमात्र फ्री टु एयर स्‍पोर्ट्स चैनल है। यह क्रिकेट, फुटबाल, हॉकी, टेनिस, कबड्डी, तीरंदाजी, एथलेटिक्‍स और अन्‍य देशी खेलों आदि का कवरेज करता है। डीडी स्‍पोर्ट्स पर गैर ओलंपिक और परंपरागत खेलों के कवरेज के लिए एक नकद बाह्य प्रवाह प्रणाली की व्‍यवस्‍था भी की गई है। यह चैनल विभिन्‍न खेल फेडरेशनों और एसोसिएशनों द्वारा आयोजित खेल कार्यक्रमों को कवर करता है।
डीडी भारती: यह चैनल 26 जनवरी, 2002 को शुरू किया गया था। जोखिम, क्विज कांटेस्‍ट, ललित कला/पेंटिंग्‍स, शिल्‍प और डिजाइन, कार्टून, प्रतिभा खोज आदि के अलावा यह युवा लोगों के साथ एक घंटे के कार्यक्रम 'मेरी बात' का सीधा प्रसारण करता है। स्‍वस्‍थ जीवन शैली पर जोर देने वाले, इलाज की बजाय निवारण पर केंद्रित चिकित्‍सा के आधुनिक और परंपरागत रूपों पर कार्यक्रमों का भी प्रसारण होता है। राष्‍ट्रीय और अंतर्राष्‍ट्रीय ख्‍याति के शीर्ष कलाकारों के शास्‍त्रीय ऩृत्‍य/संगीत कार्यक्रम इस चैनल पर दिखाए जाते हैं। इसके अलावा थिएटर, साहित्‍य, संगीत, पेंटिंग्‍स, मूर्तिकला और वास्‍तु शिल्‍प पर कार्यक्रम भी दिखाए जाते हैं। चैनल आईजीएनसीए, सीईसी, इग्‍नू, पीएसबीटी, एनसीईआरटी और साहित्‍य अकादमी जैसे संगठनों के सहयोग से भी कार्यक्रमों का प्रसारण करता है। चैनल आकाशवाणी संगीत सम्‍मेलनों का व्‍यापक कवरेज करता है। क्षेत्रीय दूरदर्शन केंद्रों के कार्यक्रमों का सीधा रिकार्डेड प्रसारण होता है।
डीडी इंडिया: इस चैनल पर कार्यक्रम इस तरह किए जाते हैं कि विश्‍व खासकर भारतीय लोगों को भारतीय सामाजिक, सांस्‍कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक परिदृश्‍य देखने का प्राथमिक उद्देश्‍य पूरा हो सके। चैनल हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू, संस्‍कृत, गुजराती, मलयालम और तेलुगु में समाचार, सामयिक विषयों पर फीचर, अंतरराष्‍ट्रीय महत्‍व के मुद्दों पर चर्चाएं प्रसारित करता है। यह मनोरंजक कार्यक्रम, धारावाहिक, थिएटर, संगीत और नृत्‍य के अलावा फिल्‍मों का प्रसारण भी करता है।
पंजाबी, उर्दू, तेलुगु, बंगाली, मराठी, कन्‍नड़, मलयालम और गुजराती जैसी क्षेत्रीय भाषाओं के कार्यक्रम इस चैनल के आवश्‍यक संघटक हैं। स्‍वाधीनता दिवस, गणतंत्र दिवस समारोह, बजट प्रस्‍तुतीकरण और राष्‍ट्रीय अंतरराष्‍ट्रीय महत्‍व की अन्‍य घटनाओं का इस चैनल पर सीधा प्रसारण किया जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें