भारतीय आम चुनाव, २०१४
Flag of भारत

२००९ ←
सदस्य
७ अप्रैल २०१४ - १२ मई २०१४ → २०१९

लोक सभा की सभी ५४३ सीटें
बहुमत के लिए २७२ ज़रूरी

Rahul Gandhi in Ernakulam, Kerala.jpg CM Narendra Damodardas Modi.jpg
नेता राहुल गांधी
(चुनाव समिति के प्रमुख, प्रधानमंत्री उम्मीदवार घोषित नहीं)
नरेन्द्र मोदी
(प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार)
पार्टी कांग्रेस भाजपा
गटबंधन संप्रग राजग
नेता की सीट अमेठी वाराणसी
वडोदरा
पिछला चुनाव 262 सीटें, 37.22% 137 सीटें, 24.63%
वर्तमान सीटें 228 137
सीटें की आवशकता Green Arrow Up Darker.svg44 Green Arrow Up Darker.svg135

Incumbent प्रधानमंत्री
मनमोहन सिंह
कांग्रेस

भारत में सोलहवीं लोक सभा के लिए आम चुनाव 7 अप्रैल से 12 मई २०१४ तक चरणों में होगा। मतगणना 16 मई को होगी।[1] इसके लिए भारत की सभी संसदीय क्षेत्रों में वोट डाले जायेंगे। वर्तमान में पंद्रहवी लोक सभा का कार्यकाल 31 मई २०१४ को ख़त्म हो रहा है।[2] ये चुनाव अब तक के इतिहास में सबसे लंबा कार्यक्रम वाला चुनाव होगा। यह पहली बार होगा, जब देश में 9 चरणों में लोकसभा चुनाव होंगे। निर्वाचन आयोग के अनुसार 81.45 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।[3][4]

पृष्ठभूमि

संवैधानिक आवश्यकता से, लोक सभा के चुनाव हर पांच साल की अवधि पर आयोजित किये जाने चाहिए। १५ वीं लोकसभा के गठन के लिए पिछला चुनाव अप्रैल से मई २००९ में आयोजित किया गया था। १५ वीं लोकसभा की अवधि ३१ मई २०१४ को स्वाभाविक रूप से समाप्त हो जाएगी। चुनाव का आयोजन भारत निर्वाचन आयोग द्वारा किया जाता है। बड़े चुनावी आधार और सुरक्षा कारणों को संभालने के लिए चुनाव कई चरणों में आयोजित किये जाते हैं।
२००९ में पिछले आम चुनाव के बाद से, अन्ना हजारे और बाबा रामदेव द्वारा भारतीय भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन ने गति और राजनीतिक हित प्रापत किये हैं। भाजपा भी विभिन विधान सभा चुनावों में बहुमत जीतकर आम चुनाव के लिए आशान्वित है। गोवा चुनाव में भाजपा को बहुमत प्रपात हुआ और पंजाब में सत्ता विरोधी लहर की एक परंपरा के बावजूद जीत हासिल की। हालांकि, भाजपा उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक के दक्षिणी गढ़ में सत्ता खो दी। दिसंबर २०१३ में आयोजित हुए चारों विधान सभा चुनावों में भाजपा ने जीत प्रापत की। भाजपा ने दिल्ली में बहुलता प्रापत की और सबसे बड़े दल के रूप उभरी। कांग्रेस को चुनावों हरा कर भाजपा राजस्थान में दो-तिहाई से ज्यादा सीट प्रपात की। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भाजपा ने तीसरी बार सरकार बना कर सभी प्रांतों में जीत हासिल की।

चुनाव कार्यक्रम


भारतीय आम चुनाव, 2014 के लिए निर्वाचन तिथियाँ
5 मार्च २०१४ को मुख्य निर्वाचन आयुक्त वी एस संपथ ने चुनाव कार्यक्रम की तारीखों और तैयारियों का ऐलान किया। कुल 9 चरणों में मत डाले जाएँगे। 7 अप्रैल को पहले, 9 अप्रैल को दूसरे, 10 अप्रैल को तीसरे, 12 अप्रैल को चौथे, 17 अप्रैल को पाँचवें, 24 अप्रैल को छठे, 30 अप्रैल को सातवें, 7 मई को आठवें, 12 मई को नौवें चरण का मतदान होगा।[5]

राज्यवार कार्यक्रम

      मतदान हो चुका       मतदान चल रहा है       मतदान अभी होना है
[छुपाएँ]क्षेत्र कुल संसदीय क्षेत्र मतदान तिथि और संसदीय क्षेत्रों की संख्या[6]
  • चरण 1
  • 7 अप्रैल 2014
  • चरण 2
  • 9 अप्रैल 2014
  • चरण 3
  • 10 अप्रैल 2014
  • चरण 4
  • 12 अप्रैल 2014
  • चरण 5
  • 17 अप्रैल 2014
  • चरण 6
  • 24 अप्रैल 2014
  • चरण 7
  • 30 अप्रैल 2014
  • चरण 8
  • 7 मई 2014
  • चरण 9
  • 12 मई 2014
प्रगति 6 6 + 1* 91 7 121 117 89 64 41
आन्ध्र प्रदेश 42 17 25
अरुणाचल प्रदेश 2 2
असम 14 5 3 6
बिहार 40 6 7 7 7 7 6
छत्तीसगढ़ 11 1 3 7
गोवा 2 2
गुजरात 26 26
हरियाणा 10 10
हिमाचल प्रदेश 4 4
जम्मू और कश्मीर 6 1 1 1 1 2
झारखंड 14 4 6 4
कर्नाटक 28 28
केरल 20 20
मध्य प्रदेश 29 9 10 10
महाराष्ट्र 48 10 19 19
मणिपुर 2 1 1
मेघालय 2 2
मिजोरम 1 1*
नागालैंड 1 1
ओडिशा 21 10 11
पंजाब 13 13
राजस्थान 25 20 5
सिक्किम 1 1
तमिलनाडु 39 39
त्रिपुरा 2 1 1
उत्तर प्रदेश 80 10 11 12 14 15 18
उत्तराखंड 5 5
पश्चिम बंगाल 42 4 6 9 6 17
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह 1 1
चंडीगढ़ 1 1
दादरा और नगर हवेली 1 1
दमन और दीव 1 1
लक्षद्वीप 1 1
दिल्ली 7 7
पुदुच्चेरी 1 1
संसदीय क्षेत्र 543 6 6 + 1* 91 7 121 117 89 64 41
संबंधित चरण
समाप्त होने तक
कुल संसदीय क्षेत्र

6 13* 104 111 232 349 438 502 543
* − छात्र संगठनों के बंद के कारण मिजोरम में 11 अप्रैल को मतदान हुआ।[7]

दल तथा गठबंधन

१३ सितम्बर २०१३ को भाजपा ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के लिए अपने उम्मीदवार के लिए नामजद किया.[8] कांग्रेस पार्टी ने १७ जनवरी २०१४ एलान किया की राहुल गांधी, सोनिया गांधी के बेटे, कांग्रेस के चुनाव अभियान के नेता होंगे. हालांकि, उन्हें स्पष्ट रूप से प्रधानमंत्री पद के लिए उम्मीदवार नामित नहीं किया गया.[9]
भाजपा के मुख्य सहयोगी महाराष्ट्र में शिवसेना,पंजाब में शिरोमणि अकाली दल, तीन तमिल पार्टियों देसिया मुरपोक्कु द्रविड़ कड़गम (डीएमडीके), मक्कल काची पात्तली (पीएमके) और द्रविड़ मुनेत्र कड़गम मरुमलार्ची (एमडीएमके) ने तमिलनाडु में और आंध्र प्रदेश में तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) हैं। शिवसेना, शिवसेना, एक चरम हिंदू राष्ट्रवादी पार्टी है और शिरोमणि अकाली दल, जो परंपरागत सिख पार्टी है, पंजाब में कांग्रेस पार्टी की विरोधी है और भाजपा के स्वाभाविक सहयोगी हैं। अन्य दलों में यह मामला नहीं है। तेलुगू देशम २००९ के पिछले चुनाव में वामपंथी तीसरे मोर्चे के हिस्से के रूप में उतरी और २०१४ में रागज में शामिल हो कर आंध्र प्रदेश में संयुक्त उम्मीदवारों पर सहमत हो गयी। भाजपा के साथ एक समझौते के अंतरगत वर्तमान चुनाव की शुरुआत से पहले ही यह सहमति बनी। भाजपा आंध्र प्रदेश के ४२ निर्वाचन क्षेत्रों में से १२ पर उम्मीदवार उतारेगी जिसमे तेलंगाना से आठ उम्मीदवार होंगे। तमिलनाडु में भाजपा पांच तमिल पार्टियों के सहित एक गठबंधन में शामिल हुई। डीएमडीके १४ निर्वाचन क्षेत्रों पर, भाजपा और पीएमके आठ पर और सात पर एमडीएमके उम्मीदवार उतारेगी।[10][11][12][13]

मुद्दे

भ्रष्टाचार

भारत में 'भ्रष्टाचार' बड़े पैमाने पर है। भारत ट्रान्सपैरेंसी इंटरनेशनल के भ्रष्टाचार धारणाएं सूचकांक में 179 देशों में से 95 वें स्थान पर है. लेकिन भारत के स्कोर में लगातार सुधार हुआ है जो 2002 में 2.7 से 2011 में 3.1 हो गया। [14] ऐतिहासिक रूप से, भ्रष्टाचार, भारतीय राजनीति और नौकरशाही का एक व्यापक पहलू की भूमिका में है।[15]
भारत में भ्रष्टाचार घूस, कर अपवंचन और गबन, आदि के रूप में उपस्थित है। २००९ में पिछले भारतीय आम चुनाव के बाद से 2011 भारतीय भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन और अन्ना हजारे और बाबा रामदेव द्वारा अन्य इसी तरह के आंदोलनों के द्वारा भ्रष्टाचार रोकने के प्रयास हुए हैं. [16] भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के कार्यकर्ता अन्ना हजारे द्वारा जंतर मंतर,नई दिल्ली में शुरू की गयी भूख हड़ताल में भ्रष्टाचार को कम करने के लिए विधायी उद्देश्य के साथ अगस्त 2011 में भारत सरकार के माध्यम से जन लोकपाल विधेयक को पारित करने की शुरुआत की गयी.रामदेव के नेतृत्व में एक अन्य उद्देश्य से स्विस और अन्य विदेशी बैंकों से काला धन के प्रत्यावर्तन के लिए आंदोलन किये गए.

ओपिनियन पोल

महीना सन्दर्भ सर्वे संस्था नमूने का आकार
संप्रग राजग तीमो अन्य
जनवरी-मार्च 2013 [17] टाइम्स नाऊ -सीवोटर नमूने का आकार नहीं दिया 128 184 - -
अप्रैल-मई 2013 [18] हेडलाइन टुडे -सीवोटर 120,000 132 (मोदी के बिना)
155 (मोदी के साथ)
179(मोदी के बिना)
220 (मोदी के साथ)
- -
मई 2013 [19] एबीपी न्यूज़ -नीलसन 33,408 136 206 - -
जुलाई 2013 [20] द वीक - हंसा रिसर्च नमूने का आकार नहीं दिया 184 197 - 162
जुलाई 2013 [21] सीएनएन-आईबीएन और द हिन्दू सीएसडीएस के साथ 19,062[22] 149-157 172-180 - 208-224
जुलाई 2013 [23] टाइम्स नाऊ -इंडिया टुडे -सीवोटर 36,914 134 (कांग्रेस 119) 156 (भाजपा 131) - -
अगस्त-अक्टूबर 2013 [24] टाइम्स नाऊ -इंडिया टीवी -सीवोटर 24,284 117 (कांग्रेस 102) 186 (भाजपा 162) - 240
दिसम्बर 2013–जनवरी २०१४ [25] इंडिया टुडे- सीवोटर 21,792 103 (कांग्रेस 91) 212 (भाजपा 188) - 228
दिसम्बर 2013–जनवरी २०१४ [26] एबीपी न्यूज़ -नीलसन 64,006[27] 101 (कांग्रेस 81) 226 (भाजपा 210) - 216
जनवरी २०१४ [28] सीएनएन-आईबीएन -लोकनीति -सीएसडीएस 18,591[29] 107 - 127
(कांग्रेस 92 - 108)
211 - 231
(भाजपा 192 - 210)
- 205
जनवरी-फरवरी २०१४ [30] टाइम्स नाऊ -इंडिया टुडे -सीवोटर 14,000[31] 101 (कांग्रेस 89) 227 (भाजपा 202) - 215
फरवरी २०१४ [27] एबीपी न्यूज़ -नीलसन 29,000 92 236 29 186
फरवरी २०१४ [32] सीएनएन-आईबीएन -लोकनीति -सीएसडीएस 29,000 119 - 139
(कांग्रेस 94 - 110)
212 - 232
(भाजपा 193 - 213)
105 - 193
मार्च २०१४ [33] एनडीटीवी - हंसा रिसर्च 46,571 129 232 55 130
मार्च २०१४ [33] एनडीटीवी - हंसा रिसर्च 46,571 123 259 171
मार्च २०१४ [34] सीएनएन-आईबीएन -लोकनीति -सीएसडीएस 20,957 111-123 234-246 170-180

मतदान

चरण 1 - 7 अप्रैल
पहले चरण के मतदान असम की पांच और त्रिपुरा की एक सीट पर हुए। मतदान प्रतिशत क्रमश: 72.5 और 84 फीसदी रहा।[35]
चरण 2 - 9 और 11 अप्रैल
नागालैंड में 82.5%, अरुणाचल प्रदेश में 71%, मेघालय में 66% तथा मणिपुर में 70% लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।[36][37] छात्र संगठनों के बंद के कारण मिजोरम में चुनाव 11 अप्रैल तक टल गया।[7] यहाँ पर 60% लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।[38]
चरण 3 - 10 अप्रैल
तीसरे चरण का मतदान 10 अप्रैल को 91 सीटों पर हुआ। केरल में 76%, दिल्ली में 64%, मध्य प्रदेश में 55.98%, महाराष्ट्र में 54.13%, उत्तर प्रदेश में 65%, हरियाणा में 73%, झारखंड में 58% तथा जम्मू में 66.29% मतदान हुआ।[39]
चरण 4 - 12 अप्रैल
चौथे चरण में गोवा में 75%, असम में 75%, त्रिपुरा में 81.8% तथा सिक्किम में 76% मतदान हुआ।[40]
चरण 5 - 17 अप्रैल
इस चरण में 121 सीटों पर मतदान हुआ। उत्तर प्रदेश में 62%, पश्चिम बंगाल में 80%, ओडिशा में 70% से ज्यादा, जम्मू और कश्मीर में 69%, मध्य प्रदेश में 54% और झारखंड में 62% मतदान हुआ। महाराष्ट्र में 61.7%, मणिपुर में 74%, कर्नाटक में 65%, राजस्थान में 63.25%, छत्तीसगढ़ में 63.44% और बिहार में 56% मतदान हुआ।[41]

सन्दर्भ

  1. "9 चरणों में होंगे चुनाव, 16 मई को वोटों की गिनती". नवभारत टाइम्स. 5 मार्च २०१४.
  2. "Terms of Houses, Election Commission of India". अभिगमन तिथि: 10 जून 2013.
  3. "Number of Registered Voters in India reaches 814.5 Mn in २०१४". IANS. news.biharprabha.com. अभिगमन तिथि: 23 फरवरी २०१४.
  4. "भारतीय आम चुनाव, २०१४".
  5. "9 चरणों में होंगे चुनाव, 16 मई को होगा नतीजों का ऐलान". आईबीएन 7. 5 मार्च २०१४.
  6. "General Elections – 2014 : Schedule of Elections" (पीडीएफ). 5 मार्च 2014. अभिगमन तिथि: 5 मार्च 2014.
  7. "मिजोरम में अब 11 अप्रैल को चुनाव". IANS. एनडीटीवी इंडिया. अप्रैल 8, २०१४. अभिगमन तिथि: अप्रैल 9, २०१४.
  8. B. Muralidhar Reddy (2013-09-17). "It’s official: Modi is BJP’s choice". The Hindu.
  9. "India's Rahul Gandhi to lead poll campaign". aljazeera.com. 2014-01-17.
  10. Prasad Nichenametla (2014-04-06). "TDP back in NDA, ties up with BJP for Andhra polls". The Hindustan Times.
  11. "Elections 2014: Telugu Desam Party-Bharatiya Janata Party set to seal the deal". Deccan Chroncle. 2014-04-06.
  12. Aswathy (2014-03-21). "Tamil Nadu: BJP teams up with DMDK, PMK, MDMK". news.oneindia.in.
  13. Sandhya Jain (2014-03-25). "BJP set to win big in Tamil Nadu". Niti Central.
  14. Believe it or not! India is becoming less corrupt. CNN-IBN. 26 September 2007.
  15. [1]
  16. "Loksabha election 2014 predictions Survey — Opinion Poll". Seekers Find .in. 28 January 2013. अभिगमन तिथि: 31 July 2013.
  17. "२०१४ Lok Sabha polls: Big losses to UPA, no gain for NDA, survey finds". टाइम्स ऑफ इंडिया. 17 अप्रैल 2013. अभिगमन तिथि: 11 जून 2013.
  18. "Narendra Modi is NDA's trump card for २०१४ Lok Sabha polls, reveals Headlines Today C-Voter survey". इंडिया टुडे. 21 मई 2013. अभिगमन तिथि: 31 जुलाई 2013.
  19. यह सामग्री इन्टरनेट से हटा दी गयी है इसे "http://www.newsbullet.in/india/34-more/42023-upa-set-for-a-crushing-defeatsurvey" पर देखा जा सकता है। इस जालस्थल का नाम पहले newsbullet.in था।
  20. "Lok Sabha polls २०१४: Narendra Modi top choice for PM, beats Rahul Gandhi, says survey". इंडियन एक्सप्रेस. 4 जुलाई 2013. अभिगमन तिथि: 31 जुलाई 2013.
  21. "Poll tracker". सीएनएन-आईबीएन. 26 जुलाई 2013. अभिगमन तिथि: 26 जुलाई 2013.
  22. "Survey Methodology". चेन्नई, भारत: द हिन्दू. 22 जुलाई 2013. अभिगमन तिथि: 25 जुलाई 2013.
  23. "२०१४ Poll survey projects NDA making significant gains". द इकनोमिक टाइम्स. 29 जुलाई 2013. अभिगमन तिथि: 29 जुलाई 2013.
  24. "Congress 102, BJP 162; UPA 117, NDA 186: C-Voter Poll". आउटलुक. अभिगमन तिथि: 17 अक्टूबर 2013.
  25. "NDA may win over 200 seats as Modi's popularity soars further: India Today Mood of the Nation opinion poll : North, News - India Today". इंडिया टुडे. अभिगमन तिथि: 23 जनवरी 2013.
  26. "ABP News nationwide opinion poll: NDA clear winner with 226, UPA stuck at 101". Abpnews. अभिगमन तिथि: 25 जनवरी 2013.
  27. "Modi-led NDA way ahead than UPA, to win 236 seats in LS polls २०१४: ABP News-Nielsen Opinion Poll". Abp news. २०१४-02-22. अभिगमन तिथि: २०१४-02-22.
  28. "Poll tracker: NDA to get 211-231, UPA distant second with 107-127". आईबीएन लाइव. अभिगमन तिथि: 24 जनवरी 2013.
  29. "Methodology of Lokniti-IBN Tracker Round II". लोकनीति. अभिगमन तिथि: 24 जनवरी 2013.
  30. "India TV-C Voter projection: Big gains for BJP in UP, Bihar; NDA may be 45 short of magic mark". Indiatv. अभिगमन तिथि: 13 फरवरी 2013.
  31. "#WhoWillFormGovt: National Poll Projection - 1". टाइम्स नाऊ. अभिगमन तिथि: 13 फरवरी 2013.
  32. "NDA close to halfway mark with 212-232, needs more allies". IBNLive. २०१४-03-07. अभिगमन तिथि: २०१४-03-07.
  33. "The Final Word - India's biggest opinion poll". NDTV. 14 मार्च २०१४. अभिगमन तिथि: 14 मार्च २०१४.
  34. "Modi-powered NDA may get 234-246 seats, UPA 111-123". IBNLive. २०१४-04-04. अभिगमन तिथि: २०१४-04-04.
  35. "आम चुनाव २०१४: पहला चरण संपन्न". द पत्रिका. अप्रैल 7, २०१४.
  36. "Elections Phase 2: Northeast registers high turnout, peaceful polling once again". oneindia. अप्रैल 9, २०१४.
  37. "Huge turnout in Lok Sabha polls in 4 northeast states". हिन्दुस्तान टाइम्स. अप्रैल 9, २०१४.
  38. "Lok Sabha elections: 60 percent voter turnout in Mizoram". जागरण पोस्ट. 12 अप्रैल २०१४. अभिगमन तिथि: 13 अप्रैल २०१४.
  39. "लोकसभा चुनाव २०१४: तीसरे चरण की वोटिंग खत्म, जनता ने दिखाया जोश, किया बंपर मतदान". आज तक. 10 अप्रैल २०१४. अभिगमन तिथि: 14 अप्रैल २०१४.
  40. "High Voter Turnout in Phase 4". आईबीएन लाइव. 12 अप्रैल २०१४. अभिगमन तिथि: 14 अप्रैल २०१४.
  41. "लोकसभा चुनाव: पांचवे दौर में रिकॉर्डतोड़ मतदान, मणिपुर में 80, उड़ीसा में 70 फीसदी पड़े वोट". आजतक. 17 अप्रैल २०१४. अभिगमन तिथि: 18 अप्रैल २०१४.