गुरुवार, 27 दिसंबर 2012

कसाब को फाँसी

 


 शुक्रवार, 23 नवंबर, 2012 को 18:27 IST तक के समाचार
मुंबई हमलों के दोषी क़साब को फांसी दे दी गई है लेकिन इस हमले में जिन लोगों ने अपनों को खो दिया उनके लिए ये अधूरा इंसाफ है. आखिर उन्हें कैसे मिलेगा पूरा इंसाफ?
क़साब की फांसी के बाद ये आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्तान में भारतीय नागरिक सरबजीत की दया याचिका पर राष्ट्रपति ज़रदारी क्या फ़ैसला करेंगे.
बीबीसी संवाददाता ने पाकिस्तान के उस गांव का दौरा किया जिसे कसाब का गांव बताया जाता है. क्या मंज़र था वहां, जानने के लिए पढ़ें.
पाकिस्तानी तालिबान ने अजमल कसाब को येरवडा जेल में फांसी दिए जाने पर भारत से बदला लेने की धमकी दी है.
अजमल कसाब को 21 नवंबर की सुबह 7.30 बजे पुणे की येरवडा जेल में फांसी दी गई. इसके बाद उनके शव को जेल परिसर में ही दफ़ना दिया गया.
कसाब को फाँसी दे दी गई. फंदे पर झूलने से पहले क्या थे कसाब के आखिरी शब्द और कैसे पूरा हुआ आपरेशन 'एक्स' जानिए.
भारत में अब भी 16 ऐसे अपराधी हैं जिन्हें फाँसी की सज़ा सुनाई जा चुकी है. पर उन्हें अब भी दया की उम्मीद है. कौन हैं ये लोग?
26 नवंबर, 2008 को मुंबई में हुए चरमपंथी हमले के दौरान सिर्फ़ एक हमलावर अजमल कसाब गिरफ़्तार किया गया. लगभग चार साल की कानूनी लड़ाई के बाद उन्हें फांसी दे दी गई कब क्या हुआ, पढ़िए.
26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए हमलों के दौरान 174 लोग मारे गए थे. तस्वीरों के माध्यम से जानने की कोशिश करते हैं कि उस दिन क्या हुआ था.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें